< Healthy and active lifestyle(स्वस्थ तथा क्रियात्मक जीवन शैली) - Healthcare and yoga

Healthcare and yoga

health matters!

healthly and active lifestyle
lifestyle Read in hindi

Healthy and active lifestyle(स्वस्थ तथा क्रियात्मक जीवन शैली)

Healthy and active lifestyle (स्वस्थ तथा क्रियात्मक जीवन शैली)healthy and active lifestyle

आज के इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में जिसे देखे वह गलत आदतों तथा गलत जीवनशैली का शिकार है| और इस बदलते युग में नए-नए प्रकार की बीमारियां भी होती जा रही है जैसे आपको  कोरोना को ही ले ले तो हर इंसान की एक ही चाहत है कि वह अपने आप को कैसे स्वस्थ तथा क्रियावान रखें,

 तो उत्तर है स्वास्थ्य तथा क्रियात्मक  जीवन शैली (healthy and active lifestyle)healthly and active lifestyle

हम जानेंगे कि स्वास्थ्य क्रियात्मक जीवन शैली क्या है |तथा अपने जीवन में कैसे शामिल करें सबसे पहले हम जानेंगे कि गलत जीवनशैली या आदत से किन प्रकार के रोग होते हैं|

disease caused by wrong habits and lifestyle( बीमारियां जो गलत आदतों और जीवनशैली के कारण होते हैं।)

1.Heart disease(हृदय रोग)

2.Stroke (आघात)

3.Obesity (मोटापा)

4.Diabetes mellitus(मधुमेह वयस्कों में होने वाला)

यह चार मुख्य रोग है जो गलत लाइफस्टाइल के कारण होते हैं परंतु और रोग हैं जो गलत आदत और लाइफस्टाइल के कारण होते हैं

5.Alzheimer’s disease (भूलने की बीमारी अल्जाइमर रोग)

6.Arthritics (गठिया)

7.Atherosclerosis (धमनियों में रुकावट)

8.Asthma(दमा)

9.Cancer (कैंसर)

10.Chronic liver disease cirrhosis (सिरोसिस लिवर का सिकुड़ना)

11.Chronic obstructive pulmonary disease  c o p d (फेफड़ों की बीमार)

12.Colitis (कोलाइटिस आंत की बीमारी)

13.Irritable bowel syndrome  (आंत का रोग)

14.Hypertension (HTN) (उच्च रक्तचाप)

15.Metabolic syndrome (मेटाबॉलिक सिंड्रोम )

16.Chronic kidney failure CKD (किडनी फेल) 

17.Osteoporosis (ओस्टियोपोरोसिस (हड्डियाँ पतली होना) )

18.PCOD polycystic ovarian syndromel disease (पॉली सिस्टिक ओवरी सिंड्रोम)  इस बीमारी में हॉर्मोन्स के कारण ओवरी में छोटी-छोटी सिस्ट यानी गांठ हो जाती हैं। 

19.Depression (अवसाद)

20.Vascular dementia  (संवहनी मनोभ्रंश)

यह 20 ऐसे बीमारियां हैं जो गलत जीवनशैली के कारण हो सकता हैं।

अब अब आप सोच रहे होंगे कि एक स्वस्थ एवं क्रियाशील जीवनशैली किया है और हम इसे अपने जीवन में अपनाकर अपना जीवन स्वस्थ तथा निरोगी कैसे बना सकते हैं । 

तो चलिए जानते हैं

 healthy and active lifestyle स्वस्थ और क्रियात्मक जीवन शैली हम किसे कह  सकते हैं

सही मायने में देखा जाए तो एक स्वस्थ और क्रिया को जीवनशैली जीने का कोई भी नियम नहीं है| पर आप अपने दिन को किस तरह बिताते हैं, उस पर निर्भर करता है| अगर आप दिन भर खुश हैं, और आपको रात में एक अच्छी और

healthly and active lifestyle

 गहरी नींद आती है |तो आपका वह दिन आपके जीवन का एक स्वस्थ और क्रियात्मक जीवन शैली होगी( healthy and active lifestyle)

 

हमारीhealth care and yoga की टीम द्वारा रिसर्च करके एक दिनचर्या बनाया गया उसे आप फॉलो करके एक स्वस्थ रखे अपना जीवन शैली जी सकते हैं

 daily routine for healthy and active lifestyle स्वच्छता क्रियात्मक जीवन शैली के लिए दिनचर्या

  • कोशिश करें कि ब्रह्म मुहूर्त में उठें ,सुबह 4:00 से 5:00 के बीच, अगर नींद पूरी नहीं होती तो लगभग 6:30 बजे तक तो उठी जाए|
  • उठने के बाद पहले एक गिलास आधा या गुनगुना पानी पिए|
  • इसके बाद फ्रेश होने जाए इसमें हड़बड़ी ना करें |खुद को आराम से वक्त दें ताकि पेट अच्छी तरह साफ हो सके |इंग्लिश स्टाइल टॉयलेट इस्तेमाल ज्यादा ना करें ,जब भी परेशानी हो तब करें|
  • फ्रेश होने के बाद 10 से 15 मिनट बाद एक कप ग्रीन टी या ताजा मौसमी जूस ले सकते हैं|
  • इस समय कोई एक फल खासकर केला या एक मुट्ठी ड्राई फ्रूट्स जैसे बदाम, अखरोट ,चिया सीड्स आदि जरूर खाएं|
  • 45 मिनट एक्सरसाइज करें, उसके बाद 15 मिनट तक ध्यान करें|
  • आप अपने व्यायाम में योग को शामिल कर सकते हैं| खासकर सूर्य नमस्कार, अगर आप यह सब नहीं कर सकते तो आप रोजाना 45 मिनट तक पैदल चलें| (ब्रिस्क वॉक 1 मिनट में लगभग 80 से 90 कदम चले|)
  • एक्सरसाइज करने के बाद आप आराम से स्नान करें, करीब 15 से 20 मिनट ले और योग के अनुसार  घर्षण स्नान करें |healthly and active lifestyle

         (घर्षण स्नान  पूरे शरीर को रगड़ कर स्नान करना|) 

  • साबुन का शैंपू का प्रयोग कम करें|
  • इसके आधे घंटे बाद ब्रेकफास्ट करें इस समय अच्छा से खाना खाएं| जिसमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और फैट तीनों होने चाहिए। दलिया, ओट्स, पोहा,  खूब सारी हरी सब्जियों के साथ  दूध, पनीर,  अंकुरित दालें या एग वाइट आदि भी ले सकते हैं|
  • सबके लिए यह सब मुमकिन नहीं हो सकता है ,पर आप हर दिन अलग-अलग आहार शामिल करें|
  • डिनर में आप सबसे हल्का खाना खाएं|
  • उसके बाद आप 20 मिनट के लिए टहले और सोने में लगभग 2 घंटे का गैप लें|
  • कोशिश करें कि डिनर 8:00 बजे से पहले कर ले|
  • उसके बाद आप 7 से 8 घंटे की भरपूर नींद ले कोशिश करें कि आप 10:30 बजे से पहले सो जाएं|

  

        क्या ना करें

  • एक्सरसाइज खाली पेट ना करें कुछ खाने के आधे घंटे बाद करें|
  • ब्रेकफास्ट के साथ तरल पदार्थ ना लें पीना ही चाहे तो जूस या छाछ या दूध ले सकते हैं| पानी आधे घंटे बाद पिए|
  • सोने वाले कमरे में टीवी लैपटॉप आदि ना चलाए| नाही मोबाइल इस्तेमाल करें

  Disclaimer

Healthcareandyoga.com पर दी गई हर जानकारी सिर्फ पाठकों के ज्ञान वर्धन के लिए है किसी भी बीमारी या स्वास्थ संबंधी समस्या के इलाज के लिए अपने डॉक्टर की सलाह पर ही भरोसा करे
Healthcareandyoga.com पर प्रकाशित किसी भी आलेख के आधार पर अपना इलाज खुद करने पर किसी भी नुकसान की जिम्मेदारी संबंधित व्यक्ति की ही होगी

thank you

healhty and active lifestyle

2 COMMENTS

  1. Hey there. I found your web site by way of Google at the same time as looking for a related topic, your site came up. It seems great. I have bookmarked it in my google bookmarks to visit then. Rozina Aaron Ferris

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *